मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक पाउडर or Mota hone ke liye ayurvedic dawa

0
12
Mota hone ke liye ayurvedic dawa

क्या आप भी अपने दुबलेपन से परेशान हैं ? यदि हाँ, तो अब ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं हैं।  क्यूँकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक पाउडर  or Mota hone ke liye ayurvedic dawa बताएंगे। इन मोटे होने की आयुर्वेदिक दवा का निरंतर उपयोग करने से आप अपना वज़न बढ़ता हुआ खुद देख पाएंगे।

इनके आलावा हम आपको मोटा होने के लिए असरदार घरेलू नुस्खे (Home Remedies for Weight Gain) भी बताएंगे। जो अगर आप इन Mota Hone Ka Powder के साथ अपनाएंगे , तो आपको अपने शरीर पर जल्द ही अच्छा असर दिखेगा।

यह बिलकुल सच बात हैं , कि मोटे लोगो के लिए पतला होना मुश्किल हैं। लेकिन इस बात में भी कोई शक नहीं हैं , कि पतले लोगो के लिए मोटा होना काफी मुश्किल हैं। अक्सर पतले लोग दुनिया की बात सुन-सुनकर हीनभावना का शिकार हो जाते हैं। वे मोटा होना के लिए ना जाने क्या-क्या नहीं करते हैं , लेकिन फिर भी उन्हें कोई फ़ायदा होते हुए नहीं दिखता हैं।

यदि आप भी इन्हें लोगो में से हैं , तो हमारे इस लेख में दिए गए मोटा होने के लिए आसान Ayurvedic Dawa In Hindi में को आजमा कर देखे। यकीन मानिए, आप खुद आयुर्वेदिक उपचार का लोहा मानेंगे। तो अब इंतज़ार किस बात का, चलिए शुरू करते हैं!!! Mota hone ke liye ayurvedic dawa.


Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa In Hindi

1:- Ashwagandha Churna For Weight gain ( अश्वगंधा चूर्ण )

अश्वगंधा चूर्ण वज़न बढ़ाने में बहुत कारगर हैं। इसमें बहुत से healthy और nutritional benefits हैं , जो अगर high calorie diet के साथ ली जाए , तो शारीरिक वज़न बढ़ाने में बहुत लाभकारी साबित होता हैं। यह भारत में एक तरह की औषधि मानी जाती हैं , जो अपने चमत्कारी गुणों की वजह से Indian Ginseng के नाम से भी जानी जाती हैं।

यदि कोई व्यक्ति अपना वजन बढ़ाना चाहता हैं , तो रोजाना 100 मिग्रा सुबह शाम दूध के साथ इसका सेवन करे। 1 महीने में उसको फर्क दिखना शुरू हो जाएगा। अश्वगंधा चूर्ण आसानी से मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध हैं। कोई भी व्यक्ति जाकर इसको खरीद सकता है।

2:- Shatavari ( मोटे होने की दवा का नाम or Mota Hone Ke Liye Ayurvedic Dawa )

सतावरी एक ऐसी औषधि है , जो गर्भवती महिलाओं को वजन बढ़ाने के लिए खासतौर पर दी जाती हैं। इसी के साथ-साथ ये डिहाइड्रेशन की कमी को भी पूरा करती हैं। इसके अलावा इसका सेवन करना disgestive सिस्टम के लिए भी बहुत अच्छा होता हैं। यह मानव शरीर की पाचन क्रिया को तंदरुस्त बनाता हैं। भारत में Himalaya Herbals , सतावरी का सबसे बड़ा manufactrers हैं।

3:- Yashtimadhu Ayurvedic Medicine  ( मोटा होने का पाउडर )

कुछ लोग ऐसे होते हैं , जिनका खाना अच्छे से नहीं पचता हैं। जिसकी वजह से उनका वजन भी नहीं बढ़ता। यदि आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा हैं , तो आप यष्टिमधु आयुर्वेदिक पाउडर सुबह शाम ले सकते हैं।

यह एक बहुत ही प्रभावशाली घरेलु उपचार हैं , जो पाचन क्रिया को मजबूत करता हैं और स्टेमिना भी बढ़ाती हैं। इसके अलावा यह पाउडर शरीर की कमजोरी भी दूर करता हैं। यह तो आप बखूबी समझते ही हैं , अगर शरीर की पाचन क्रिया सही होगी , तो खाना अच्छे से पचेगा। फिर व्यक्ति को भूख भी लगेगी और शरीर में खाना भी लगेगा। जिससे वजन अपने आप बढने लगेगा।

4:- मुलेठी का पाउडर

मोटा होने के लिए मुलेठी का पाउडर भी बहुत प्रभावशाली आयुर्वेदिक दवा हैं। यह मानव शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत करती हैं और शरीर को स्वस्थ बनाती हैं। इसी के साथ शरीर के और भी कमज़ोरियो को दूर करती हैं।


मोटा होने के लिए टिप्स तरीके ( Mota Hone Ke Tips Tarike ) 

  • सुबह हमेशा जल्दी उठने की कोशिश करे।
  • करीबन रोजाना 8 घंटे की गहरी नींद ले।
  • मोटा होने के लिए योग करना भी बहुत फायदेमंद होता हैं।
  • अपने खाने में प्रोटीन और फैट वाली चीजों को शामिल करे।
  • सुबह शाम दूध पिए।
  • रोजाना सुबह खाली पेट 2 गिलास पानी पिए।
  • रोजाना सुबह जल्दी उठे।
  • बाज़ार का समोसा, कचोरी, नाश्ता , मट्ठी बहुत फैट बढाती हैं।
  • बाजार का नाश्ता, समोसे, कचोरी सुबह शाम खाये , यह शरीर में चर्बी बढ़ाते हैं।
  • मोटा होने के लिए रोजाना मक्के की रोटी खाये। (मोटा होने के लिए क्या क्या खाये अगर आपके मन में यह सवाल आता हैं , तो आप सिर्फ मक्के की रोटी खाना शुरू कर दे 1 महीने में ही शरीर मोटा हो जाएगा। )
  • रोजाना 5 मिनट के लिए प्राणायाम करें। (कपालभाति)
  • सुबह शाम भरपेट भोजन करें

Read Also:-


वजन बढ़ाने (मोटा होने) के घरेलू उपाय (Home Remedies for Weight Gaining in Hindi)

Mota hone ke liye ayurvedic dawa

शरीर में बहुत से ऐसे दोष होते हैं , जिनकी वजह से वजन निरंतर गिरता रहता हैं। जिसके बहुत से कारण हो सकते हैं। जैसे- खाने में प्रोटीन, फैट वाली चीजों की कमी होना, ज्यादा टेंशन लेना, तनावग्रस्त जीवन जीना, किसी बात का ज्यादा प्रेशर लेना, आदि। लेकिन अगर आप संतुलित आहार ले और नीचे बताये गए , घरेलू उपाय करे तो आपका वजन जरुर बढ़ सकता हैं और आप मोटे हो पाएंगे।

1:- मोटे होने की आयुर्वेदिक दवा है केला

यदि आप मोटा होना चाहते हैं , तो आपको रोजाना 2 केले और दूध लेना चाहिए। या फिर आप केले को दूध में मिलाकर मिक्सी में भी ग्राइंड कर सकते हैं। जो बनाना शेक के रूप में आप पी सकते हैं। यह सेहत के लिए काफी अच्छा होता हैं। यह वजन बढ़ाने के साथ-साथ हड्डियाँ भी मजबूत करता हैं। अगर आप केला दूध के साथ नहीं ले सकते , तो आप दही के साथ भी ले सकते हैं।

2:- दूध और शहद मोटे होने की आयुर्वेदिक दवा है

रोज सुबह और रात्री में दूध के साथ शहद का सेवन करना भी वजन बढ़ाने में बहुत कारगर साबित होता हैं। इसके साथ यह पाचन क्रिया भी अच्छी करता हैं। और मोटा होने में भी मदद करता हैं।

3:- बादाम, खजूर और अंजीर मोटे होने की आयुर्वेदिक दवा है

बाज़ार से खरीदकर रोजाना चार से पांच बादाम, खजूर, और अंजीर दूध में डालकर उबाले। अच्छी तरह जब दूध में ये तीनो चीज़े पक जाये , तो दूध को गुन-गुना करके पियें। ये पीने से आपके शरीर में ताकत आएगी और आप मोटे भी होने लगेंगे।

4:- बीन्स के सेवन से वजन में वृद्धि

बीन्स ऐसी सब्जी हैं , जो मोटे होने की दवाइयों में भी उपयोग की जय हैं। अगर आप भी मोटा होना चाहते हैं , तो अपने खाने में बीन्स का उपयोग आधिक करे।

5:- वजन में वृद्धि के लिए किशमिश का सेवन

करीबन 10 ग्राम किशमिश ले और उसको दूध में भिगाकर रखे। फिर सोने से पहले उसको दूध में अच्छे से उबाल ले। अब दूध को ठंडा कर किशमिश को चबाकर ले और दूध को पी जाए। यह घरेलु नुस्खा वजन को तेज़ी से बढ़ाने में बहुत ही अच्छा माना जाता हैं।


वजन बढ़ाने (मोटा होने) से जुड़े सवाल-जवाब (FAQ Related Weight Gaining)

कुछ लोगो के मन में वजन बढ़ाने से जुड़े काफी सवाल होते हैं , जो वे किसी से पूछ नहीं पाते हैं या उन्हें कही से सही जवाब नहीं मिल पाता हैं। हमने कुछ ज्यादा पूछे गए सवाल अपने लेख में शामिल किये हैं। जिन्हें पढ़कर आप अपने मन से बहुत सी शंकाए दूर कर सकते हैं।

प्रश्न1: वजन क्यों कम होने लगता है ?

उत्तर: यदि आयुर्वेद की बात करे , तो इसके अनूसार मानव शरीर का संतुलन वात-पित्त-कफ के ऊपर निर्भर रहता हैं। यदि शरीर में वाट बढ़ जाए और पित्त की कमी होने लगी तो शरीर का वजन निरंतर घटता ही जाएगा। ऐसे में व्यक्ति को अपने खाने-पीने पर विशेषतौर से ध्यान देना चाहिए।

प्रश्न 2: क्या आनुवांशक रूप से भी लोगों का शरीर दुबला होता है ?

उत्तर: जी हाँ, यदि माता-पिता का वजन शुरू से कम रहा हैं , तो हो सकता हैं , कि बच्चे का वजन भी कम हो। क्यूंकि वजन का कम होना परिवार के इतिहास (आनुवांशिकता) पर भी निर्भर करता हैं। हो सकता हैं , परिवार के लोगो का वजन कम होने की वजह से बच्चे का शरीर भी दुबला-पतला रहे।

प्रश्न 3: क्या दुबला-पतला होने से शरीर को रोगी माना जाए ?

उत्तर: कुछ लोग बहुत अच्छा खाते हैं और उनकी diet भी बहुत सही होती हैं। वह पौष्टिक आहार लेने के साथ-साथ घरेलु उपचार भी कर चुके होते हैं , लेकिन फिर भी उनका वजन नहीं बढ़ता हैं। लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नहीं हैं , कि वह बीमार या कमजोर हैं।

प्रश्न 4: क्या वजन बढ़ाने के लिए दवाओं का सेवन करना सही है ?

उत्तर: आजकल बाज़ार में बहुत सी ऐसी दवाइयों ने अपनी जगह बना ली हैं , जो तेज़ी से वजन बढ़ाने की गारंटी देते हैं। जिन्हें लोग खरीद कर खाना शुरू कर देते हैं। यह दवाइयां वजन तो बढ़ाती हैं , लेकिन शरीर में बहुत से रोग भी पैदा कर देती हैं। इसीलिए कोई भी दवाई बिना डॉक्टर से पूछे नहीं लेनी चाहिए। वरना यह सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकती हैं।

प्रश्न 5: वजन बढ़ाने का सबसे बेहतर उपाय क्या है ?

उत्तर: वजन बढ़ाने के लिए प्राकृतिक उपायों का सहारा लेना चाहिए। घरेलू उपचार और आयुर्वेदिक उपचार (home remedy for weight gaining) द्वारा शरीर को पोषण प्राप्त होता है। इससे वजन प्राकृतिक रूप से बढ़ता है। प्राकृतिक उपायों से केवल वजन ही नहीं बढ़ता, बल्कि व्यक्ति का शरीर पुष्ट रहता है। वह मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ भी रहता है।


निष्कर्ष:

हम उम्मीद करते हैं , कि मोटा होने के लिए आयुर्वेदिक पाउडर  or Mota hone ke liye ayurvedic dawa लेख , आपके लिए काफी मददगार साबित होगा। यदि आप इस लेख Mota hone ke liye ayurvedic dawa से जुड़े और भी कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं , तो नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में जरुर टाइप करे। हम आपके सभी प्रश्नों का उत्तर देंगे।


Read Also:-

Like Our Facebook Page :- LOGICAL FACT BLOG

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here