शब्द शक्ति किसे कहते हैं ?। Shabd Shakti Kise Kahate Hain

0
149
Shabd Shakti Kise Kahate Hain

Shabd Shakti Kise Kahate Hain : आज के इस आर्टिकल में हम आपको शब्द शक्ति किसे कहते हैं ? ( Shabd Shakti Kise Kahate Hain ) OR Shabd Shakti Ki Paribhasaha तथा इसके उदाहरण भी बताने जा रहे हैं।

हिंदी होने के बावजूद भी हम हिंदी की कई चीजों के बारे में नहीं जानते हैं। शब्द शक्ति के बारे में भी काफी कम लोग ही जानते हैं। अगर आप भी शब्द शक्ति के बारे में नहीं जानते हैं, तो यह आर्टिकल आपके लिए है।


शब्द शक्ति किसे कहते है ? | शब्द शक्ति की परिभाषा | Shabd Shakti Kise Kahate Hain

Shabd Shakti Kise Kahate Hain : जिस शब्द में ” शब्द ” का अर्थ बोध कराने की शक्ति हो, उससे शब्द शक्ति कहते हैं। तथा शब्द के अर्थों को जन नीतियों के साथ ग्रहण किया जाता है।



शब्द शक्ति के भेद कितने प्रकार के होते हैं ? | Shabd Shakti Ke Bhed

शब्द शक्ति के भेद तीन प्रकार के होते हैं :-

  1. अभिधा शब्द शक्ति
  2. लक्षणा शब्द शक्ति
  3. व्यंजना शब्द शक्ति

आइए इन तीनों प्रकार के शब्द शक्तियों के बारे में विस्तार से जानते हैं :-

1. अभिधा शब्द शक्ति

जिस शक्ति से शब्द अपने स्वाभाविक साधारण बोलचाल में प्रसिद्ध अर्थ को बताता है, उसे अभिधा शब्द शक्ति कहा जाता है। सरल शब्दों में समझें, तो वाच्य अर्थ पर आधारित शब्द शक्ति को अभिधा शब्द शक्ति कहा जाता है।

जो अर्थ शब्द स्वाभाविकता को दर्शाता है, उससे वाचक कहा जाता है। इन शब्दों के अर्थ को वाच्यार्थ कहा जाता है।

उदाहरण के तौर पर :-  

  • राम ने पानी पिया।

ऊपर की ओर दिखाए गए उदाहरण में ” पानी ” शब्द को रेखांकित किया गया है। यहां पर पानी से अर्थ किसी पेय सामग्री से है। यह अर्थ ही पानी शब्द का सामान्य तथा स्वाभाविक अर्थ है।

अभिधा शब्द शक्ति के भी तीन प्रकार होते हैं। यह तीन प्रकार है :-

  1. रूढ़
  2. यौगिक
  3. योगरूढ़

2. लक्षणा शब्द शक्ति

लक्षणा शब्द शक्ति : लेखन में या बोलचाल में जब कोई शब्द अपना सामान्य अर्थ छोड़कर किसी विशेष अर्थ को प्रकट करता है तो वहां पर लक्षणा शब्द शक्ति की उत्पत्ति होती है। सरल शब्दों में समझें तो लक्ष्यार्थ पर आधारित शब्द शक्ति को लक्षणा शब्द शक्ति कहा जाता है।

वह शब्द जो लक्षण का अर्थ बताते हैं, उन्हें लक्षण कहा जाता है।

उदाहरण के तौर पर :-

  • गरीब को दो वक्त की रोटी तक नसीब नहीं।

ऊपर दिखाए गए वाक्य में ” रोटी ” शब्द को रेखांकित किया गया है। यहां पर रोटी का सामान्य अर्थ खाद्य पदार्थ है। किंतु दिखाए गए वाक्य में ” रोटी ” का अर्थ खाना है। अतः इस वाक्य का अर्थ होता है, कि गरीब को दो वक्त का खाना तक नसीब नहीं हो पाता।

लक्षणा शब्द शक्ति के दो भेद माने गए हैं। यह दो भेद है :-

  1. रूढ़ि लक्षणा
  2. प्रयोजनवती लक्षणा


3. व्यंजना शब्द शक्ति

व्यंजना शब्द शक्ति: जो अर्थ अभिधा शब्द शक्ति या लक्षणा शब्द शक्ति द्वारा प्रकट करने में असफल होते हैं या जब कोई शब्द अपना सामान्य अर्थ छोड़कर कई सारे विशेष अर्थों का आभास कराता है, तो वहां पर व्यंजना शब्द शक्ति की उत्पत्ति होती है।

सरल शब्दों में समझें, तो व्यंग्य अर्थ पर आधारित शब्द शक्ति को व्यंजना शब्द शक्ति कहा जाता है।

उदाहरण के तौर पर :- 

  • अभिनेता अमिताभ बच्चन भारतीय सिनेमा के शेर है।

ऊपर दिखाई जाए वाक्य में ” शेर ” शब्द को रेखांकित किया गया है। यहां पर ” शेर ” शब्द का सामान्य अर्थ जानवर होता हैं। लेकिन इस वाक्य में ” शेर ” के कई सारे अर्थ हो सकते हैं, जैसे कि :-

  • शेर – बहादुर
  • शेर – सर्वश्रेष्ठ
  • शेर – सर्वोत्कृष्ट

यही कारण है, कि ऊपर दिखाए गए शब्द में व्यंजना शब्द शक्ति है।

व्यंजना शब्द शक्ति के भी दो प्रकार के भेद होते हैं। यह भेद है –

  1. शाब्दी व्यंजना
  2. आर्थी व्यंजना

For More Info Watch This :


अन्तिम शब्द :

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको शब्द शक्ति किसे कहते है ( Shabd Shakti Kise Kahate Hain , Shabd Shakti Ke Bhed ), शब्द शक्ति के कितने भेद है।

उम्मीद करते हैं, कि आपको हमारे द्वारा बताई गई सभी जानकारी अच्छी तरह से समझ में आ गई होगी। आशा करते हैं, कि अब आप शब्द शक्ति के बारे में सभी बातें जान गए होंगे और आपके मन में इसको लेकर जितने भी शंका थी, वह सभी दूर हो गए होंगी।

अगर आपको यह लेख – Shabd Shakti Kise Kahate Hain पसंद आया है, तो इसे सोशल मीडिया पर और अपने दोस्तो के साथ ज़रुर शेयर करे।

Our Other Partners : Paheliyaninhindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here